Breaking Newsअन्यझारखण्डधनबादबोकारो

पेट्रोलियम मिनिस्टर ने बोकारो में बनने वाले ऑयल डिपो और एलपीजी बॉटलिंग प्लांट का शिलान्यास किया

  • 350 करोड़ की लागत से बनेगा दोनों प्लांट
  • मिनिस्टर ने सीएम की मौजूदगी में किया ऑनलाइन शिलान्यास

बोकारो:सेंट्रल पेट्रोलियम मिनिस्टर धर्मेंद्र प्रधान ने रविवार को बोकारो में भारत पेट्रोलियम के गैस बॉटलिंग प्लांट व एवं तेल डिपो का शिलान्यास किया.मौके पर सीएम रघुवर दास, मिनिस्टर अमर बाउरी, धनबाद एमपी पीएन सिंह, गिरिडीह एमपी चंद्रप्रकाश चौधरी,पुरुलिया एमपी ज्योतिर्मय महतो, बेरमो एमएलए योगेश्वर महतो बाटुल, बोकारो एमएलए विरंची नारायण, डीआईजी प्रभात कुमार, बोकारो के डीसी कृपानंद झा, एसपी पी. मुरूगन, सेल के अफसर समेत बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे.
पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने बोकारो के सेक्टर-5 स्थित पुस्तकालय मैदान से गैस बॉटलिंग प्लांट एवं तेल डिपो निर्माण का ऑनलाइन शिलान्यास किया. श्री प्रधान ने कहा कि दोनों परियोजनाओं के चालू होने के बाद क्षेत्र की स्थिति में काफी बदलाव होगा..भारत पेट्रोलियम इन दोनों परियोजनाओं पर 350 करोड़ का निवेश करेगी. एलपीजी बॉटलिंग प्लांट से रोजाना ढाई सौ ट्रक बोकारो से निकलेंगे और राज्य के विभिन्न शहरों में गैस की सप्लाई करेंगे.इससे बहुत से लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा.
देश में 2030 तक 300 मिलियन टन स्टील का प्रोडक्शन होगा
धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि आने वाले वर्षों में कुल 10,000 करोड रुपये पेट्रोलियम व औद्योगिक क्षेत्र में लगाये जा रहे विभिन्न परियोजनाओं व कारखानों में खर्च किये जायेंगे. भारत सरकार का लक्ष्य है कि 2030 तक 300 मिलियन टन स्टील का प्रोडक्शन पूरे देश में होगा.इसका एक बहुत बड़ा हिस्सा झारखंड राज्य से आयेगा.

ऑयल डिपो और एलपीजी बॉटलिंग प्लांट से  1000 लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा: सीएम
सीएम रघुवर दास ने कहा कि बोकारो में 350 करोड़ से ऑयल डिपो और एलपीजी बॉटलिंग प्लांट  से बोकारो जिले में लगभग 1000 लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा. कई हजार लोगों को भी इन परियोजनाओं से अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा. किसी भी क्षेत्र का विकास वहां पेट्रोल और डीजल के खपत में हुई बढ़ोतरी से नापा जा सकता है. देश के बड़े शहरों में 7-8% की दर से पेट्रोल डीजल की खपत बढ़ रही है, वहीं झारखंड के बड़े शहरों में 15% की दर से पेट्रोल- डीजल की मांग में बढ़ोतरी दर्ज की गई है. यह आंकड़ा इस बात का सूचक है कि झारखंड देश के अन्य हिस्सों के मुकाबले दोगुनी रफ्तार से विकसित हो रहा है.सीएम ने कहा कि आने वाले कृष्ण जन्माष्टमी के दिन झारखंड राज्य के सभी पांच प्रमंडलों में विशेष कार्यक्रम आयोजित कर उज्जवला योजना की लाभुक सभी 43 लाख महिलाओं को राज्य सरकार की तरफ से दूसरा भरा हुआ सिलेंडर मुफ्त दिया जायेगा.यह झारखंड की बहनों को मुख्यमंत्री की तरफ से राखी के त्यौहार का उपहार होगा.
शिलान्यास के साथ दोनों प्रोजेक्ट का कार्य भी प्रारंभ हो गया. गैस बॉटलिंग संयंत्र के लिए बियाडा में बीस एकड़ भूमि का आवंटन किया गया है. यह झारखंड का पहला गैस बॉटलिंग संयंत्र होगा. यहां से प्रतिदिन 12 हजार गैस सिलेंडर का उत्पादन होगा तथा झारखंड के साथ बिहार में भी गैस की आपूर्ति होगी. राधानगर में 73 एकड़ जमीन पर तेल डिपो की स्थापना होगी. यह झारखंड का सबसे बड़ा तेल डिपो होगा. राधानगर ग्राम में 73 एकड़ में बनने वाले आयल डिपो में तेल का भंडारण होगा. इस आयल डिपो से समस्त झारखंड के पेट्रोल पंप में पेट्रोल-डीजल का वितरण होगा.ऑयल डिपो में तेल की आपूर्ति रेलवे से होगी. भविष्य में असम के नुमालीगढ़ रिफायनरी से पाइप के माध्यम से जोड़ दिया जायेगा.जिससे इस ऑयल डिपो में तेल की अनवरत आपूर्ति सुनिश्चित हो सकेगी.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com