Breaking Newsजमशेदपुरझारखण्डदिल्लीदेशराजनीतिराज्य

झारखंड:आदिवासियों के जल, जंगल, जमीन के अधिकार पर नहीं आने दी जायेगी आंच: पीएम मोदी

  • राजकुमार राम को आपने बनाया मर्यादा पुरुषोत्तम
  • पीएम ने खूंटी और जमशेदपुर में किया चुनावी सभाओं में कहा बीजेपी आदिवासियों का
  • गौरव बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध
  • कांग्रेस-झामुमो की राजनीति छल व स्वार्थ की
  • भाजपा कर्म व सेवा भाव से करती है काम

रांची: पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को खूंटी और जमशेदपुर की चुनावी सभाओं में कांग्रेस व जेएमएम पर जमकर निशाना साधा। पीएम ने राष्ट्रीय गौरव बोध,राम मंदिर, तीन तलाक कानून, आर्टिकल 370 की चर्चा करते हुए उन्होंने स्थायी सरकार के फायदे बताये। पीएम ने केंद्र व राज्य की भाजपा सरकार द्वारा किये गये विकास कार्यों का उल्लेख किया। पीएम ने कहा कि आदिवासियों के जल, जंगल, जमीन के अधिकार पर आंच नहीं आने दी जायेगी। बीजेपी आदिवासियों का गौरव बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है।
पीएम ने कहा कि यह व्यक्तियों की बीच का चुनाव नहीं है। घर में भी बेटा व बेटी 19 साल के हो जाते हैं तो मां बाप के सोचने की तरीका बदल जाता है। झारखंड भी 19 साल का हो गया है। आगे का पूरा भविष्य इसी पांच साल में बनने वाला है। 19 से 25 साल का जीवन महत्वपूर्ण होती है। मोदी की एक ही पहचान है, कोई आपको भ्रमित करने का प्रयास करता है तो मत हो। मोदी सिर्फ कमल का फूल लेकर ही आता है। अगर कमल का फूल है तो वहां मोदी है। कमल का फूल जहां नहीं है, वहां मोदी नहीं है। जमशेदपुर की समस्या, मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर का अभाव है। मेडिकल सेक्टर में यहां तेजी से परिवर्तन आ रहा है। आजादी के छह दशक तक तीन ही मेडिकल कॉलेज थे। बीते पांच साल में मेडिकल कॉलेज की संख्या सात हो चुकी है। पुराने जिला अस्पताल का आधुनिकीकरण का काम आने वाले समय में तेज होगा। झारखंड में मेडिकल पढ़ाई की सीटें पांच साल में दोगुनी हो चुकी है। बीजेपी गर्वमेंट ने ही झारखंड को अपना पहला एम्स दिया है। इस पर 1000 करोड़ से ज्यादा की राशि खर्च की जायेगी।
उन्होंने कहा कि आर्टिकल 370 को हाथ लगाने से सभी डरते थे। लेकिन मोदी डरा नहीं। देश की जनता ने मोदी को कठोर फैसले लेने के लिए भेजा है। मैं राजनीतिक नहीं देश नीति के बारे में सोचता हूं। इसी के कारण 370 में जम्मू-कश्मीर, लद्दाख व कारगिल भी हमारे साथ खड़ा रहा। देश के लिए काम करते हैं, देश, झारखंड व जमशेदपुर भी आशीर्वाद देता है। राम जन्मभूमि विवाद को हमने सुलझाया। कांग्रेस ने सिर्फ उलझाया। सब शांति से निपट गया। यही तो रामजी की ताकत है। हमारी माताओं-बहनों को सम्मानपूर्वक जीने का हक मिलना चाहिए।उन्होंने कहा कि हमारी मुस्लिम बहनों के साथ कितना घोर अपमान होता था। तीन तलाक जिंदगी तबाह कर देता था। शादी के बाद सपने लेकर जाती थी, तबाह होकर वापस लौटती थी। सच यह है तीन तलाक के कारण मुस्लिम पुरुष भी दुखी था। बेटी को शादी करके तो भेज रहा हूं, लेकिन तीन तलाक के कारण उसे कहीं वापस नहीं आना पड़े।मोदी ने कहा कि मेक इन इंडिया सशक्त हो रहा है। आने वाले स्टील की मांग व उत्पादन तेज होने वाला है। इससे झारखंड में स्टील उद्योग के विस्तारीकरण की पूरी संभावना है।हमारा प्रयास औद्योगिकीकरण को बढ़ावा देने का तो है ही, साथ ही उनके जीवन स्तर को ऊपर पहुंचाना है। श्रमिकों के लिए कानून बनने जा रहा है। भाजपा की सरकार ने उस वर्ग की चिंता की है, जिन्हें हमेशा सताया गया है। असंगठित क्षेत्र के साथियों की चिंता पहली बार भाजपा सरकार ने की है। साथियों को 60 वर्ष के बाद पेंशन की सुविधा दी गई है। सरकार की दूसरी योजनाओं का सबसे अधिक लाभ इसी वर्ग को हो रहा है। 2022 भारत की आजादी के 75 साल होंगे, हिंदुस्तान में एक भी गरीब को झुग्गी झोपड़ी में जिंदगी गुजारनी होगी। हर परिवार का अपना पक्का घर होगा। उज्जवला योजना के तहत मुफ्त गैस कनेक्शन व सौभाग्य योजना के तहत मुफ्त बिजली का कनेक्शन बिजली को मिला है।
मोदी ने कहा कि हमने कोशिश की है कि झारखंड में निवेश पर जोर दिया जाए। इसी का परिणाम है कि स्टील के साथ मैनुफैक्चिरंग के दूसरे उद्योग लगे हैं। रेशम उद्योग को बढ़ावा दिया जा रहा है। कच्चे रेशम के मामले में झारखंड अग्रणी रहा है। लेकिन पहले की सरकारों ने गंभीर प्रयास नहीं किए। सिंहभूम हो या सिमडेगा हो. झारखंड के हर हिस्से में रेशम की पैदावर होती है। भाजपा की सरकार रेशम उत्पादन का हब बनाने की विजन के साथ आगे बढ़ रही है। इसके लिए करोड़ों रुपये की मदद झारखंड को दी गई है। इसी का परिणाम है कि पहले 2000 मीट्रिक टन से कम उत्पादन होता था। अब 27 हजार टन उत्पादन हो रहा है। इस उद्योग में दो लाख से अधिक रोजगार मिले है। भारत दुनिया का दूसरा बड़ा स्टील उत्पादक बना है तो इसमें जमशेदपुर का बहुत बड़ा योगदान है। बीते पांच वर्ष में हमने भारत के स्टील को सड़क से लेकर सैटेलाइट तक प्राथमिकता दी है। पीएम ने कहा कि कांग्रेस व जेएमएम के अवसरवादी गठबंधन को यहां की स्थिरता रास नहीं आती। इसलिए ऐसी व्यवस्था चाहते हैं ।स्थायी सरकार का परिणाम है कि रोड, रेल व एयर कनेक्टिविटी का काम तेजी से हो रहा है। रेलवे के लिए 2000 करोड़ आवंटित किए गए हैं। पिछले पांच वर्षों में दस हजार करोड़ से अधिक झारखंड को मिला है। भाजपा शासन के दौरान 700 किलोमीटर रेल लाइन खोली गई। यहां सीएनजी जैसी प्रदूषण रहित आधुनिक व्यवस्था भी झारखंड के अनेक शहरों में विकसित की जा रही है। इसके लिए गैस पाइप लाइन से झारखंड को जोड़ा जा रहा है। पीएम ऊर्जा योजना का बहुत बड़ा लाभार्थी जमशेदपुर है। उज्जवला योजना के तहत लाखों को गैस कनेक्शन मिला है। अब मध्यमवर्ग को पाइपलाइन से गैस कनेक्शन देने का काम हो रहा है। झारखंड के विकास के लिए भाजपा पूरी तरह प्रतिबद्ध है। दिल्ली व झारखंड में दोनों जगह जब भाजपा की सरकार होती है तो विकास की रफ्तार और तेज हो जाती है। जब इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत होता है तो उद्योग व निवेश के लिए माहौल बनता है। हमने कोशिश की है झारखंड में निवेश पर जोर दिया जाए।
पीएम ने कहा कि पांच साल पहले क्या स्थिति थी, किसी से छिपी नहीं है। कांग्रेस व झामुमो के राज में भ्रष्टाचार की खबरें आती थी। आज भी भ्रष्टाचार के केस अदालतों में चल रहे हैं। अपने स्वार्थ के लिए इन्होंने सीएम की कुर्सी तक का सौदा कर दिया था। पांच वर्ष पहले तक झारखंड राजनीति अस्थिरता के लिए चर्चा में रहता था। सिर्फ 15 साल ने झारखंड में दस बार सीएम को बदलते हुए देखा है। मैं गुजरात में 13 साल अकेला सीएम था। और उसी स्थिरता का परिणाम है कि आज गुजरात कहां से कहां पहुंच गया। मौसम जितनी तेजी से नहीं बदलता था, उतनी तेजी से सीएम बदल दिए जाते थे। इसमें कांग्रेस व जेएमएम के नेताओं का स्वार्थ जिम्मेदार है। भाजपा ने इस पर रोक लगाई और पहली बार पांच वर्ष तक एक ही मुख्यमंत्री पहली बार रहा। इसी स्थिरता का परिणाम है कि प्रभावी काम हो रहा है। इस माहौल को बनाए रखने के लिए झारखंड पुकार रहा है, भाजपा सरकार दोबारा।झारखंड भारत के सभी कल्याणकारी योजनाओं की कर्मस्थली बना है। आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत का गौरव झारखंड के खाते में है। एक साल में ही झारखंड के डेढ़ लाख गरीबों को मुफ्त ईलाज मिल चुका है। किसानों को 60 वर्ष के बाद पेंशन योजना झारखंड से लागू हुआ है।2022 तक देश के हर आदिवासी इलाके में मॉडल स्कूल बनाने की शुरुआत यहीं से हुई है। राज्य को देश व दुनिया में नई पहचान दिलाने का श्रेय आप सभी को है।जमशेदपुर की धरती स्वर्ण की धरती है। लाखों लोगों के सपनों को साकार करने वाली धरती है। दुनिया में भारत की प्रतिष्ठा को बढ़ाने वाली धरती है। एक व्यक्ति कैसे अपने दम पर आगे बढ़ सकता है, उनकी धरती है। मैं जमशेदजी नौसेरवान टाटा को प्रणाम करता हूं। मेरा तो आपसे सीधा नाता है। क्योंकि टाटा परिवार गुजरात से हैं और आज भी नवसारी में उनका घर है। आज टाटा परिवार की यादें गुजरात से जुड़ी हुई है। मैं कई बार जमशेदपुर आया। पीएम बनने के बाद दूसरी बार यहां आया हूं। पिछली बार हमने कहा था कि हमारी दिल्ली में सिमटकर रहने वाली नहीं है।

खुंटी में पीएम के साथ अर्जुन, कड़िया व अन्य.

पीएम ने खूंटी में कहा कि भगवान राम जब अयोध्या से निकले थे वह राजकुमार थे। लेकिन जब अयोध्या वापस आये तो मर्यादा पुरुषोत्तम कहलाए। यह कैसे हुआ। क्योंकि 14 साल राजकुमार राम ने आदिवासियों के बीच में बिताये थे। आदिवासियों ने उन्हें संस्कारित किया।आदिवासियों की विशिष्टता यह है कि वनवास के दौरान उनसे संस्कारित होकर भगवान राम मर्यादा पुरुषोत्तम बन गये। उन्होंने कहा कि बीजेपी उनके हितों, उनके गौरव को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। आपके जल, जंगल व जमीन पर कोई आंच नहीं आयेगी और ना ही कोई आंच आने दी जायेगी।कांग्रेस व झामुमो की राजनीति छल व स्वार्थ की राजनीति है। उनकी नजर यहां की प्राकृतिक संपदा पर है जबकि भाजपा कर्म व सेवा भाव से काम करती है।उन्होंने कहा कि वह अटल जी की भाजपा सरकार थी, जिसने जनजातीय समुदाय के लिए अलग झारखंड और छत्तीसगढ़ राज्य का गठन किया था। भगवान बिरसा मुंडा को सच्ची श्रद्धांजलि 2000 में अटल बिहारी वाजपेयी ने झारखंड को जन्म देकर किया था। अटल जी की भाजपा सरकार ने ही आजादी के बाद पहली बार जनजातीय समुदाय के लिए अलग से मंत्रालय बनाया। आज अर्जुन मुंडा उसके मंत्री हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली और रांची की भाजपा सरकार का डबल इंजन किसानों और आदिवासियों का जीवन आसान बनाने का काम कर रहा है।
कड़िया मुंडा की जमकर तारीफ, अर्जुन मुंडा की पीठ थपथपाई
पीएम ने खूंटी की सभा में सीनीयर बीजेपी लीडर कडिय़ा मुंडा व सेंट्रल मिनिस्टर अर्जुन मुंडा की जमकर तारीफ की। मोदी ने कहा कि जब मैं भाजपा में एक कार्यकर्ता के रूप में संगठन का दायित्व संभालता था तब कडिय़ा मुंडा ने उंगली पकड़कर मुझे संगठन शास्त्र सिखाया। उनके मार्गदर्शन में हम एक बार फिर झारखंड को संवारने के लिए मेहनत कर रहे हैं। पीएम ने अर्जुन मुंडा के संबोधन के बाद उनकी पीठ थपथपाई। पीएम ने अपने संबोधन में भी अजुर्न मुंडा का जिक्र किया। मोदी ने कहा कि अजुर्न मुंडा का अद्भुत प्रेरक भाषण सुनने के बाद मेरे भाषण की कोई जरूरत नहीं है। जिस धरती पर ऐसा नेतृत्व हो वहां कमल कभी मुरझा नहीं सकता।
पीएम ने कहा कि कांग्रेस और झामुमो ने स्वार्थ के लिए भ्रष्टाचार को प्रश्रय दिया। मुख्यमंत्री की कुर्सी तक को दांव पर लगा दिया। अब ये लोग सत्ता में वापसी के लिए छटपटा रहे हैं। इन्हें रोकना आपके हाथ में है। कहा, आप सभी को कांग्रेस से सावधान रहने की जरूरत है। उनकी नजर सिर्फ और सिर्फ यहां की प्राकृतिक संपदा पर है। झारखंड को लूटना ही उनका एजेंडा है।
जमशेदपुर की सभा में मंच पर पीएम के साथ सीएम रघुवर दास, प्रदेश प्रभारी ओम माथुर, प्रदेश अध्यक्ष लक्षमण गिलुआ, एमपी समीर उरांव, जमशेदपुर एमपीविद्युतवरण महतो एवं कोल्हान के बीजेपी के सभी कैंडिडेट उपस्थित थे। खुंटी की सभा मंच पर कड़िया मुंडा, अर्जुन मुंडा, नंद किशोर यादव, एमपी संजय सेठ, महेश पोद्दार, नीलकंठ सिंह मुंडा समेत अन्य मौजूद थे।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com