Breaking NewsTrendingअन्यटॉप खबरदेशविदेश

पाकिस्तान में पहली बार कोई हिंदू बना एयरफोर्स में पायलट, सिंध प्रांत के है राहुल देव

  • राहुल देव पाकिस्तानी एयर फोर्स में जीडी पायलट अफसर के बहाल हुए
  • राहुल देव सिंध प्रांत के सबसे बड़े जिले थरपारकर निवासी हैं
  • पाकिस्तान में थरपारकर में है हिंदू समुदाय की बड़ी संख्या

नई दिल्ली।पाकिस्तान के इतिहांस में पहली बार कोई हिंदू एयरफोर्स में पायलट बना है। पाक के सिंध प्रांत के थरपाकर निवासी राहुल देव एयरपोर्स में डीटी पायलट अफसर के रुप में बहाल हुए हैं। पाकिस्तान में विकास से वंचित इस एरिया के राहुल एयरफोर्स में पहुंचने वाले पहले व्यक्ति हैं।ऑल पाकिस्तान हिंदू पंचायत के सचिव रवि दवानी ने राहुल की एप्लाइंटमेंट पर प्रसन्नता जताई है। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक समाज के कई सदस्य सिविल सर्विस के साथ-साथ आर्मी के अन्य अंगों में सेवाएं दे रहे हैं। विशेष रूप से देश के कई बड़े डॉक्टर हिंदू समुदाय से संबंध रखते हैं। उन्होंने कहा कि अगर सरकार अल्पसंख्यकों पर ध्यान देती रहे,तो आने वाले समय में कई राहुल देव देश की सेवा के लिए तैयार मिलेंगे।
यह भी पढ़ें:जम्मू-कश्मीर:हंदवाड़ा में CRPF के गश्ती दल पर हमला, तीन जवान शहीद, सात घायल, एक आतंकी ढेर
पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की कोई धार्मिक स्वतंत्रता नहीं: रिपोर्ट
हाल ही में पाकिस्तान के मानवाधिकार आयोग ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में कहा है कि 2019 में पाकिस्तान का मानवाधिकार के मामलों में रिकॉर्ड ‘बेहद चिंताजनक’ रहा है।इसमें राजनीतिक विरोध के सुर पर व्यवस्थित तरीके से लगाम लगाने के साथ ही मीडिया की आवाज भी दबाई गई।आयोग ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि कोरोना वायरस महामारी के कारण कमजोरों और खासकर धार्मिक अल्पसंख्यकों की स्थिति और खराब होगी। पाकिस्तान मानवाधिकार आयोग (एचआरसीपी) ने बृहस्पतिवार को जारी रिपोर्ट में यह भी रेखांकित किया कि धार्मिक अल्पसंख्यक अपनी धार्मिक स्वतंत्रता या मान्यता का लाभ पूरी तरह उठाने में सक्षम नहीं हैं जिसकी गारंटी संविधान के तहत उन्हें दी गई है। ‘2019 में मानवाधिकार की स्थिति’शीर्षक वाली रिपोर्ट में कहा गया है,बहुत से समुदायों के लिए….उनके धर्मस्थल के साथ भेदभाव किया जाता है,युवतियों का जबरन धर्मांतरण कराया जाता है।रोजगार तक पहुंच में उनके साथ भेदभाव होता है।एचआरसीपी ने कहा कि व्यापक तौर पर सामाजिक और आर्थिक रूप से हाशिये पर डाले जाने के कारण समाज का सबसे कमजोर तबका अब न लोगों को दिखता है न उनकी आवाज सुनी जाती है।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com