Breaking Newsअन्यझारखण्डधनबाद

Dhanbad News: हार्डवेयर, कंस्ट्रक्शन, बुक शॉप खुलेंगी, Gangs of Wasseypur, मेंशन-रघुकुल, धनबाद नंबर वन, BCCL

धनबाद।हार्डवेयर, कंस्ट्रक्शन मेटेरियल, बुक व स्टेशनरी की दुकानें खुलेंगी। बैंक मोड़ पुलिस ने गैंग्स ऑफ वासेपुर के गैंगस्टर फहीम खान के भांजे गॉडविन खान को फल व्यवसायी से पांच लाख रुपये रंगदारी मांगने के आरोप में अरेस्ट कर ली है। एना कोलियरी व बोरागढ़ में वर्चस्व को लेकर रघुकुल व सिंह मेंशन समर्थक फिर आमने-सामने हो गये हैं। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देशानुसार वैश्विक माहमारी कोविड-19 के कारण घोषित लॉकडाउन अवधि में 181-मुख्यमंत्री जनसंवाद केंद्र राज्यस्तरीय कोरोना नियंत्रण कक्ष के रूप में 24 x 7 कार्यरत है। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देशानुसार वैश्विक माहमारी कोविड-19 के कारण घोषित लॉकडाउन अवधि में 181-मुख्यमंत्री जनसंवाद केंद्र राज्यस्तरीय कोरोना नियंत्रण कक्ष के रूप में 24 x 7 कार्यरत है।बीसीसीएल ने मानसून की तैयारी शुरू कर दी है। 
हार्डवेयर, कंस्ट्रक्शन मेटेरियल, बुक व स्टेशनरी की दुकानें खुलेंगी
लॉकडाउन-4 में टाउन एरिया में हार्डवेयर, कंस्ट्रक्शन मेटेरियल, बुक व स्टेशनरी की दुकानें खुलेंगी। एसडीएम राज महेश्वरम ने बुधवार को जिला चेंबर ऑफ कॉमर्स के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। बैठक में सशर्त कुछ दुकानों को खोलने की मंजूरी दी गयी। एसडीएम ने कहा कि लॉकडाउन 4 में इंडस्ट्रियल एरिया में इंडस्ट्री की अनुमति दी गयी है। टाउन एरिया व रुरल एरिया में निर्माण कार्य, गोदाम, माल गोदाम, हार्डवेयर, निर्माण काये से जुड़े सामान (सीमेंट, छड़ इत्यादि), टेलीकॉम कंपनी के रिटेल आउटलेट्स, किताब एवं स्टेशनरी दुकानों को खोलने की अनुमति दी गयी है। म्यूनिशिपल कॉरपोरेशन एरिया को छोड़कर पूरे जिले में मोबाइल, घड़ी, उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स जैसे टेलीविजन, सूचना प्रौद्योगिकी से जुड़े उत्पाद, कंप्यूटर, उपभोक्ता विद्युत उत्पाद (रेफ्रिजरेटर, एयर कंडीशनर, कूलर इत्यादि) के सर्विस सेंटर खोलने की अनुमति दी गयी है।प्राइवेट ऑफिस तथा ई-कॉमर्स (जरूरी एवं गैर जरूरी) को छूट दी गयी है।
बैठक में व्यवसाइयों ने मिठाई दुकानों खोलने की मांग की। निर्णय लिया गया कि मिठाई की दुकानों में होम डिलीवरी तथा टेक-अवे को लागू किया जायेगा।न्यू बॉम्बे स्वीट्स, कावेरी स्वीट्स तथा मधुलिका स्वीट्स ने आवेदन देकर इसकी स्वीकृति ले ली है।एसडीओ ने व्यवसाइयों से अपील की है कि जो कस्टमर मास्क लगाकर नहीं आयेंगे उन्हें सामान न दें। सोशल डिस्टेंसिंग, दुकान के सामने छह-छह फीट की दूरी पर गोला बनाना, दुकान के मालिक तथा सभी कर्मचारियों को अनिवार्य रूप से मास्क लगाना जरुरी है। स्टाफ की रेगुलर थर्मल स्कैनिंग और हेल्थ चेकअप करायें।बैठक में जिला चेंबर अध्यक्ष चेतन गोयनका, राजेश गुप्ता, प्रभात सुरोलिया, अजय नारायण लाल, सोहराब खान, प्रदीप सिंह, संजय लोधा, प्रेम गंगेसरिया समेत अन्य उपस्थित थे।
मिठाई दुकानों से होम डिलीवरी
Gangs of Wasseypur फल व्यवसायी से मांगी पांच लाख रंगदारी, गॉडविन अरेस्ट


गैंग्स ऑफ वासेपुर के गैंगस्टर फहीम खान के भांजों ने पांडरपाला न्यू इस्लामपुर के एक फल व्यवसायी से पांच लाख रंगदारी मांगी। प्रिंस खान, गोपी, गोडविन और बंटी आमीर ने पिस्टल साटकर जान से मार देने की धमकी दी। फल दुकानदार वसीम खान ने पुलिस के सीनियर अफसरों को कंपलेन की।सीनीयर अफसर के निर्देश पर बैंकमोड़ रेस हुई। पुलिस गोपी खान के कमरमकदुमी रोड स्थित घर व ऑफिस में रेड करने पहुंची। पुलिस को देखते ही सभी आरोपी इधर-उधर भाग निकले। गॉडविन खान भागने के क्रम में छत से कूद गया, जिससे उसका पैर टूट गया। पुलिस कस्टडी में पीएमसीएच में उसका इलाज चल रहा है। पुलिस रंगदारी मामले में अन्य आरोपितों की खोज जुटी है।पांडरपाला न्यू इस्लामपुर निवासी वसीम खान आरामोड़ में वर्षो से फल दुकान चलाता है। वसीम का आरोप है कि 17 मई को गोपी खान का गुर्गा आमिर फल दुकान पर पहुंचा और पांच लाख रुपये प्रिंस खान को पहुंचाने के लिए कहा। दुकानदार ने लॉकडाउन में कारोबार नहीं चलने की बात कहीं और अपना दुखड़ा सुनाया तो आमिर ने उस पर पिस्टल तान दिया। इसके बाद उसे रेलवे लाइन की ओर ले गये। आमिर ने वसीम की प्रिंस से फोन पर बात कराई।प्रिंस ने फोन पर पांच लाख देने के लिए दो दिनों का समय दिया। जब वह रुपये देने में असमर्थता जताने लगा तो आमिर उसे लेकर मटकुरिया रोड स्थित एक मंदिर के पास पहुंचा। वहां गोपी खान, गोडविन, प्रिंस तथा बंटी पहले से मौजूद था। प्रिंस ने उसके सिर पर पिस्टल तानकर धमकी दी कि दो दिनों के अंदर अगर पांच लाख नहीं पहुंचाया तो जान से जायेगा। दुकानदार का आरोप है कि उसकी फल दुकान से पहले भी बगैर पैसे दिए वे लोग रंगदारी से फल ले जाते थे।
एना कोलियरी में रंगदारी में रघुकुल व सिंह मेंशन विवाद सड़क पर

उपद्रवियों ने भालगोरा कांटा घर व बनियाहीर में किया काम काम बाधित किया, हाइवा रोक, चालान छीनकर भागे

एना कोलियरी व बोरागढ़ में वर्चस्व को लेकर रघुकुल व सिंह मेंशन समर्थक फिर आमने-सामने हो गये हैं। उपद्रवियों ने बुधवार को भी बीसीसीएल के भालगोरा कांटाघर व बनियाहीर के समीप हाईवा को रोककर ट्रांसपोर्टिंग बाधित किया। बनियाहीर के पास उपद्रवी हाईवा ड्राइवर से चालान छीन कर भाग गये। एना कोलियरी से हाइवा पर कोयला लोड कर चासनाला वाशरी जा रहा था। आर्म्स के बल पर चाबी व चलान चीन ली गयी। सूचना पाकर झरिया व बोरागढ़ पुलिस पहुंची लेकिन सभी उपद्रवी भाग चुके थे। पुलिस ने इन लोगों की तलाश में भालगोरा ,बोरागढ़ सहित कई क्षेत्र में सर्च ऑपरेशन चलाया पर लेकिन सफलता नहीं मिली। दो घंटे बाद पुलिस व सीआईएसएफ की देखरेख में ट्रांसपोर्टिंग कार्य शुरू किया गया।


उल्लेखनीय है कि कि मंगलवार को दोनों समर्थकों के बीच बोर्रागढ़ में भिड़ंत हो गई थी। एमएलए समर्थक के मो.फैयाज ने बोरागढ़ ओपी संजीव समर्थक पार्षद शैलेंद्र सिंह सहित अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। मेंशन समर्थक सह जनता मजदूर संघ नेता अमरनाथ सिंह ने आरोप लगाया कि एमएलए पूर्णिमा सिंह के समर्थक ऐना कोलियरी व ट्रांसपोर्टरों से रंगदारी वसूलने के लिए इस तरह की हरकतें कर रहे हैं। उनके मंसूबों को कामयाब नहीं होने दिया जायेगा। एमएलए के समर्थक चालकों की पिटाई कर परिचालन में खलल डाल रहे हैं। पुलिस इनके समर्थकों पर के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है।रघुकुलसमर्थक सह जमसं बच्चा गुट के पीबी एरिया क्षेत्रीय सचिव निखलेश सिंह का कहना है कि एमएलए को बदनाम करने की सजाशि की जा रही है। एमएलए का कोलियरी में विवाद व रंगदारी से कोई लेना-देना नहीं है। बेवजह कुछ लोग उनका नाम लेकर उन्हें बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं।झरिया के इंस्पेक्टर पीके सिंह का कहना है कि ट्रांसपोर्टिंग ठप करनेवाले लोगों की पहचान नहीं हो पाई है। छानबीन की जा रही है। दोषी को बख्शा नहीं जायेगा।

झारखंड में कोरोना संबंधित कंपलेन के डिस्पोजल में धनबाद नंबर वन, अब तक 3032 मामलों का निपटारा
झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देशानुसार वैश्विक माहमारी कोविड-19 के कारण घोषित लॉकडाउन अवधि में 181-मुख्यमंत्री जनसंवाद केंद्र राज्यस्तरीय कोरोना नियंत्रण कक्ष के रूप में 24 x 7 कार्यरत है। जिसमें निरंतर आम जनता की शिकायतें प्राप्त हो रही हैं तथा विशेष प्राथमिकता में रखकर शिकायतों का निष्पादन किया जाना है।धनबाद जिले में राज्यस्तरीय कोरोना नियंत्रण कक्ष- 181 जनसंवाद के माध्यम से राशन, पेंशन, पेयजल, पारिश्रमिक भुगतान, विधि व्यवस्था तथा मेडिकल से सम्बंधित शिकायतें निरंतर प्राप्त हो रहीं हैं। इस सम्बंध में विशिष्ट अनुभाजन पदाधिकारी सह नोडल पदाधिकारी संदीप कुमार दोराईबुरु ने बताया कि राज्यस्तरीय कोरोना नियंत्रण कक्ष- 181 जनसंवाद के माध्यम से प्राप्त जनशिकायतों के निपटारे में वर्तमान में धनबाद जिला पूरे झारखंड में प्रथम स्थान पर है। इसको प्राथमिकता में रखते हुए जिला स्तर पर उपायुक्त अमित कुमार द्वारा शिकायतों के निष्पादन से संबंधित समीक्षा निरंतर की जाती है।धनबाद जिले में आज तक कुल 3223 मामले प्राप्त हुए हैं जिसमे कुल 3022 (93.76%) शिकायतों का निपटारा किया जा चुका है। शेष मामलो के निष्पादन की प्रक्रिया चल रही है। शिकायतों के निष्पादन में अव्वल आने पर जनसंवाद के जिला समन्वयक रवि प्रकाश सिंह ने सभी पदाधिकारियों के प्रति आभार प्रकट किया है।

कोविड-19 हॉस्पीटल में मोबाइल फोन ले जाने पर रोक

कोविड-19 हॉस्पीटल डॉक्टर और स्टाफ को हॉस्पीटल में मोबाइल फोन रखने पर रोक लगा दी गई है। हॉस्पीटल में कोरोना वायरस संक्रमित पांच पेसेंट एडमिट हैं। सभी की निगरानी डॉक्टर और स्टाफ कर रहे हैं।डॉक्टर और स्टाफ हॉस्पीटल से लेकर घर और बाहर तक इसी फोन का प्रयोग करते हैं। फोन को बार-बार छूने और इसे कान तक ले जाने से यह संक्रमण का सबसे बड़ा वाहक होता है। हॉस्पीटल में बेसिक फोन लगाए गए हैं। डॉक्टरों और स्टाफ को बेसिक फोन से बातचीत करना होगा। बेसिक फोन को लगातार सैनिटाइज किया जा रहा है।जिला महामारी रोग नियंत्रण पदाधिकारी डॉ. जफरूल्ला ने बताया कि गाइडलाइन के अनुसार डॉक्टरों और स्टाफ को हॉस्पीटल में मोबाइल फोन नहीं ले जाना है। उन्हें बेसिक फोन का प्रयोग करना है डॉक्टर और स्टाफ की इसकी सूचना दी गई है।

पीएमसीएच के स्वास्थ्य कर्मचारियों की रिपोर्ट निगेटिव
पीएमसीएच के स्वास्थ्य कर्मचारियों की रिपोर्ट निगेटिव आयी है। पीएमसीएच में 28 स्वास्थ्य कर्मचारियों का 19 मई को सैंपल लिया गया था। सैंपल जांच में किसी में भी कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि नहीं हुई है। ये सभी स्वास्थ्य कर्मचारी कोरोना संक्रमित मिले गोमो के युवक के संपर्क में आये थे। पांच दिनों तक आइसोलेशन वार्ड में काम करने वाले स्वास्थ्य कर्मचारी का सैंपल लिया गया था.

अम्फन साइक्लोन के खतरे से निपटने को BCCL ने शुरू की तैयारी


सभी जोरिया, नाला व नदियों की सफाई का निर्देश

बीसीसीएल ने मानसून की तैयारी शुरू कर दी है। बीसीसीएल सुरक्षा समिति की बुधवार को बैठक में अम्फन चक्रवात व इसके बाद मानसून को देखते हुए खदानों की सुरक्षा के उपाय शुरू करने पर चर्चा हुई। श्रमिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने भी इस मुद्दे पर चर्चा की। सीएमडी पीएम प्रसाद ने सभी क्षेत्रों को जोरिया, नाला, नदी की सफाई और उसमें जल भराव से बचाव के उपाय शीघ्र कर लिए जाने का निर्देश दिया।सीएमडी ने बताया कि सेंट्रल हॉस्पीटल को कोविड-19 अस्पताल बनाया गया है। इसे जल्द ही पूर्ववत किया जायेगा ताकि श्रमिकों का समुचित इलाज हो सके। इसके लिए कोविड-19 हॉस्पीटल को अन्यत्र स्थानांतरित किया जायेगा। सेंट्रल हॉस्पीटल के सभी विभाग जल्द ही काम करना शुरू कर देंगे। इसकी व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने सुरक्षा समिति की बैठक में डॉक्टरों के भी उपस्थित रहने की बात कही। इससे सुरक्षा संबंधित जानकारी व सलाह दी जा सकेगी।

सीएमडी ने कहा कि मुनीडीह अंडर ग्राउंड मांइंस अगले दो साल में इंडिया की एक टॉप माइंस होगा। इसका विस्तार किया जायेगा और उत्पादन बढ़ाया जायेगा। यहां से सीबीएम का व्यावसायिक उत्पादन भी बढ़ाने का प्रयास चल रहा है।डीटी राकेश कुमार ने कहा कि आउटसोर्सिंग में जितने भी मशीन लगाये गये हैं। उनकी सूची व ऑपरेटर्स की सूची कंपनी को उपलब्ध कराई जाए। कहा कि कोलियरी प्रबंधक, सुरक्षा पदाधिकारी एवं अन्य अधिकारी सुरक्षा के प्रति अधिक जागरूक रहें। प्रत्येक दुर्घटना की गंभीरता पूर्वक जांच करें। उन पर चर्चा हो तथा दुर्घटना होने पर उच्च अधिकारी दुर्घटना स्थल पर शीघ्रातिशीघ्र उपस्थित हों। इससे दुर्घटना की पुनरावृति रोकी जा सकेगी। डीपी आरएस महापात्र ने कहा कि जल्द ही बीसीसीएल में डॉक्टरों की कमी दूर हो जायेगी। कंपनी 109 डॉक्टरों की बहालीकी प्रक्रिया लगभग पूरी कर चुकी है। उन्होंने कहा कि कंपनी द्वारा कर्मियों को दिये जाने वाले प्रशिक्षण को और बेहतर किया जायेगा। इसके तहत एचआरडी और वीटीसी को बेहतर बनाया जा रहा है।बैठक की अध्यक्षता सीएमडी पीएम प्रसाद ने की। बैठक में डीपी आरएस महापात्र, डीटी (ऑपरेशएन) राकेश कुमार, डीटी (पीपी) चंचल गोस्वामी, डीएफ समीरण दत्ता, सीएमडी के टीएस अरुण कुमार, जीएम(सेफ्टी) एके सिंह शामिल थे। सुरक्षा बोर्ड के सदस्यों में आरपी सिंह, विनोद मिश्रा,केपी गुप्ता,आरके तिवारी,एएम पाल तथा गोपाल मिश्रा मौजूद थे। सभी एरिया जीएम एवं आईएसओ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में भाग लिया।

रणविजय ने सीएम हेमंत को एक लाख 11 हजार का चेक सौंपा

कांग्रेस के प्रदेश सचिव व बिहार  जनता खान मजदूर संघ के महामंत्री  बुधवार को सीएम  हेमंत सोरेन से मुलाकात की। रणविजय ने सीएम को कर एक लाख ग्यारह हजार रुपये का चेक मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए सौंपा। इस अवसर पर सीएम ने सक्षम लोगों से अनुरोध किया कि वे अपनी साम‌र्थ्य के अनुरूप आगे आकर सहयोग करें। सभी लोगों के आपसी सहयोग और एकजुटता से ही कोरोना महामारी से निपटा जा सकता है।
मुंबई से लौटे गिरिडीह के संदिग्ध कोरोना पेसेंट की मौत, जांच के बाद परिजनों को मिलेगा
मुंबई से लौटे एक कोरोना संदिग्ध पेसेंट की बुधवार को धनबाद केपीएमसीएच में मृत्यु हो गई। गिरिडीह जिले के डुमरी ब्लॉक के कुलगो निवासी प्रवासी मजदूर की तबीयत बिगड़ने के बाद पीएमसीएच में एडमिट किया गया था। इलाज के दौरान मृत्यु हो गई। पेसेंट की मृत्यु के बाद पीएमसीएच प्रबंधन सकते में है।पेसेंट की कोराना जांच रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।शव को पीएमसीएच में रखा गया है। इससे पूरे डुमरी में हड़कंप मच गया है। कुलगो गांव का वह प्रवासी मजदूर चार दिन पूर्व ट्रक से मुंबई से लौटा था। जांच के बाद उसे होम क्वारंटाइन किया गया था। तबीयत बिगड़ने के बाद मंगलवार की रात को उसे पीएमचीएच में परिजनों ने भर्ती कराया था। उसकी तबीयत आने के बाद से ही खराब थी।

Comment here

6 + 4 =

WordPress Anti-Spam by WP-SpamShield

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com