Breaking Newsअन्यधनबाद

धनबाद: गोविंदपुर के दुमदुमी कंटेनमेंट जोन में कंट्रोल रूम खुला, आवश्यक वस्तुओं के लिए मोबाइल नंबर जारी

  • कर्फ्यू के बाद बढ़ाई गई निगरानी

धनबाद।गोविंदपुर ब्लॉक के दुमदुमी गांव में कोरोना संक्रमित पेसेंट मिलने के बाद एरिया में निगरानी बढ़ा दी गई। कर्फ्यू के दूसरे दिन शुक्रवार को गांव को सैनिटाइज किया।गांव पहुंचते ही स्वास्थ्य विभाग की टीम प्रत्येक परिवार की स्वास्थ्य जांच में जुट गई। एसडीएम राज महेश्वरम ने शुक्रवार को गांव का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया।

यह भी पढ़ें:झारखंड: 22 मई को पांच जिले में 22 कोरोना पेसेंट मिले, स्टेट में संक्रमितों की संख्या 330 हुई


एसडीएम ने बीडीओ सुशील कुमार राय, सीओ वंदना भारती एवं पुलिस इंस्पेक्टर सुरेंद्र कुमार सिंह को आवश्यक दिशा निर्देश दिये। जिला प्रशासन की ओर गांव के जरूरतमंदों को भोजन दिया जा रहा है। गांव की निगरानी में पंचायत सेवक नंदलाल प्रसाद, रोजगार सेवक नरेश रवि, मुखिया प्रतिनिधि जमरूद्दीन अंसारी व पांच शिक्षकों को दंडाधिकारी के रूप में नियुक्त है।पथरीली जगह पर दुमदुमी गांव स्थित रहने के कारण कुआं व चापाकल का पानी कम समय में ही सूख गया है। ग्रामीणों के बीच वितरण के लिए दो टैंकर पानी मुहैया कराया गया लेकिन यह ग्रामीणों के लिए पर्याप्त नहीं है।

यह भी पढ़ें:धनबाद:चासनाला में ट्रक की चपेट में आने से बीजेपी लीडर पिंटू ‍‍विश्वकर्मा की  की मौत
डेढ़ सौ घरों में राशन वितरण
बीडीओ सुशील राय ने कहा कि दुमदुमी में दूध के लिए दो, दवा के लिए पांच, राशन के लिए छह, सब्जी के लिए चार, गैस सिलेंडर के लिए एक और विभिन्न बैंकों से राशि निकासी के लिए तीन सीएसपी एजेंट को पास दिया गया है। पानी के जार की भी व्यवस्था की गई है। टैंकर से गांव में जलापूíत भी की जा रही है। कल आवश्यक सामग्री के लिए संबंधित लोगों के नाम का पर्चा घर-घर बंटवा दिया जायेगा। ताकि जरूरी सामान के लिए किसी को कोई परेशानी नहीं हो। गांव में आज 150 घरों में राशन वितरित किया गया।डेढ़ सौ लोगों को दोपहर और शाम का भोजन भी कराया गया। पशु चारा के लिए भी एक व्यक्ति को जिम्मेदारी दी गई है।

यह भी पढ़ें:धनबाद:सेल के चासनाला डीप माइंस में एक्सीडेंट, एक कंट्रेक्ट लेबर की मौत
दुमदुमी कंटेनमेंट जोन में खुला कंट्रोल रूम, आवश्यक वस्तुओं के लिए मोबाइल नंबर जारी
दुमदुमी ग्राम में कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति मिलने के बाद उपायुक्त अमित कुमार ने कंटेनमेंट जोन के सभी निवासियों को अपने घरों में ही रहने का तथा क्षेत्र की सभी दुकानों को बंद रखने का आदेश दिया है। साथ ही 24 x 7 कार्यरत नियंत्रण कक्ष की स्थापना की गई है।कंट्रोल रुम से दूध, दवा, राशन सहित अन्य आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई के लिए मोबाइल नंबर भी जारी किये गये हैं। कंट्रोल रुम में नरेश कुमार रवि 9031133827, ननद लाल प्रसाद 9334710437 तथा जमरूदीन अंसारी 9931350368, 6200236231 लोगों की सहायता के लिए उपलब्ध रहेंगे। दूध के लिए रोहित मंडल 9693481973, गंगाधर गिरी 7488063122, दवा के लिए फिरोज अंसारी 9110945807, सरफुद्दीन अंसारी 8207393801, रुस्तम अंसारी 6204125312, समरूद्दीन अंसारी 6299525379 तथा जाकिर 7979936913, राशन के लिए अयुब अंसारी 7250233614, तैयब अंसारी 9006750417, सत्य नारायण गोस्वामी 9798539723, लाल मोहम्मद अंसारी 9939564523, रशिद अहमद 9771085397, इकबाल अंसारी 6299456637, सब्जी एवं फल के लिए नासीर अंसारी 7061294736, मजीद अंसारी 8227068683, भगवान गिरी 9572258630, शाहबुद्दीन अंसारी 9507180680, गैस सिलेंडर के लिए कुतुबुद्दीन अंसारी 9263733244, पीडीएस के लिए जमशेद अली अंसारी 9279551845, पशुचारा के लिए हाजत तशीश अंसारी 8969129098 एवं पैसा निकासी के लिए सीएसपी हरेश 9631402238, बीरबल 8210792117 तथा असलम 9572412845 से लोग संपर्क स्थापित कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:धनबाद:एमएलए राज सिन्हा का फर्जी पीए बनकर वसूली, सरायढेला पुलिस स्टेशन में एफआइआर
कंटेनमेंट जोन में खोला गया कंट्रोल रूम
कंटेनमेंट जोन में लोगों को आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने एवं अन्य सहायता उपलब्ध कराने के लिए कंट्रोल रूम भी स्थापित किया गया है। सीओ गोविंदपुर, श्रीमती वंदना भारती (8809747780) कंट्रोल रूम के वरीय प्रभार में रहेगी। नरेश कुमार रवि 9031133827, 9334710437 तथा श्री मो. जमरुद्दीन अंसारी 9572412845 भी कंट्रोल रूम में रहेंगे लोगों की सहायता करेंगे।कंटेनमेंट जोन में खाद्यान्न, स्वास्थ्य, पेयजल, बिजली सहित अन्य आवश्यक सेवाओं को सुनिश्चित करने के लिए नोडल पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की है।कंटेनमेंट जोन में कांटेक्ट ट्रेसिंग, होम या इंस्टिट्यूशनल कोरेंटाइन, घर-घर जाकर लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण तथा कंटेनमेंट जोन में शत प्रतिशत लोगों को आरोग्य सेतु एप का प्रयोग करने का भी निर्देश दिया गया है।

यह भी पढ़ें:धनबाद:पुलिस इंस्पेक्टर सुभाष सिंह निरसा पुलिस स्टेशन इंचार्ज बने, आठ इंस्पेक्टरों का ट्रांसफर
कंटेनेंट जोन घोषित होने व कर्फ्यू लगने के बाद दुकानें,सरकारी व निजी कार्यालय बंद
बफर जोन में सुबह सात बजे से शाम सात बजे तक खुलेगी होलसेल राशन एवं दवाई की दुकानें
गोविंदपुर के दुमदुमी ग्राम में कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति मिलने के बाद डीसी अमित कुमार ने कंटेनमेंट जोन के रूप में चिन्हित परासी पंचायत के सभी निवासियों को तत्काल प्रभाव से अपने घरों में ही रहने का आदेश दिया है। क्षेत्र की सभी दुकानों को बंद रखने का आदेश दिया है। बफर जोन में आने वाली होलसेल राशन दुकान एवं दवाई की दुकान को सुबह 7:00 बजे से संध्या 7:00 बजे तक खोलने की अनुमति दी है। कंटेनमेंट जोन एवं बफर जोन के अंदर आने वाले सभी सरकारी एवं निजी संस्थान भी अगले आदेश तक बंद रहेंगे।कंटेनमेंट जोन में सभी प्रकार के वाहनों के परिचालन पर भी प्रतिबंध लगाया गया है। केवल आवश्यक वस्तुएं, एंबुलेंस, सैनिटाइजेशन, आपातकालीन स्वास्थ्य सेवा के वाहन के परिचालन की अनुमति है। बफर जोन में होलसेल दुकानों में वस्तुओं की आपूर्ति करने के लिए सुबह 7:00 बजे से शाम 7:00 बजे तक इंसिडेंट कमांडर की अनुमति से वाहनों का परिचालन किया जा सकेगा।
कंटेनमेंट जोन की चौहद्दी


पूर्व : तेतुलिया धुबी गांव
पश्चिम : ईस्ट इंडिया विलेज रोड
उत्तर : खुदिया नदी
दक्षिण : परासी गांव
बफर जोन की चौहद्दी
पूर्व : लखियाबाद गांव
पश्चिम : घोरामुर्गा गांव
उत्तर : बरवापूर्व गांव
दक्षिण : फतेहपुर गांव
डीसी-एसएसपी भी पहुंचे दुमदुमी


गोविंदपुर में ग्रामीण इलाके से कोरोना संक्रमित पेसेंट मिलने के बाद गुरुवार को डीसी, एसएसपी समेत जिला प्रशासन की टीम ने गांव पहुंची और वहां के हालात की समीक्षा की।दुमदुमजडी गांव को सैनिटाइजिंग किया गया और पूरे इलाके को सील कर दिया गया है। जिस युवक में कोरोना की पुष्टि हुई है, उनके परिवार के छह लोगों को आइसोलेट किया गया है।लगातार पूरे गांव में सीसीटीवी के माध्यम से मॉनिटरिंग की जा रही है। बाहर से आने वाले मजदूरों की थर्मल स्क्रीनिंग करवाई जा रही है। उन्हें घर भेज दिया जा रहा है। इलाके के 350 परिवारों को होम क्वॉरेंटाइन पर रखा गया है। इनके लिए सारी जरूरी चीजों की सप्लाई कंट्रोल रूम के माध्यम से की दी जा रही हैं और लोगों को अपने घरों में ही रहने की सलाह दी गई है।
दुमदुमी ग्राम कंटेनमेंट जोन, कर्फ्यू लगा


कर्फ्यू के दौरान दुकानें, प्रतिष्ठान, कार्यालय, फैक्ट्री, गोदाम, हाट बाजार, सभी परिवहन बंद
गोविंदपुर ब्लॉक के परासी पंचायत अंतर्गत दुमदुमी ग्राम में कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति मिलने के बाद गुरुवार से ही एसडीएम राज महेश्वरम ने दुमदुमी ग्राम को एपी सेंटर के रूप में चिह्नित करते हुए संपूर्ण दुमदुमी ग्राम को कंटेनमेंट जोन के रूप में चिह्नित कर कर्फ्यू लगाने का आदेश दिया है। संपूर्ण परासी पंचायत, जो गोविंदपुर ब्लॉक के गोविंदपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत है, को बफर जोन के रूप में चिह्नित किया गया है।एसडीएम ने कहा कि कंटेनमेंट जोन के रूप में चिह्नित स्थलों पर कर्फ्यू के दौरान कोई भी व्यक्तियों का जमवाड़ा पूर्णतः निषेध रहेगा। कोई भी व्यक्ति न भीड़ लगाएंगे और न ही किसी भीड़ का हिस्सा बनेंगे और न ही अपने घरों से निकलेंगे।


मोटरसाइकिल, टैक्सी, ऑटो रिक्शा, बसें, ई रिक्शा, रिक्शा के संचालन सहित किसी भी सार्वजनिक परिवहन सेवाओं के परिचालन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। अपवाद में स्वास्थ्य की तत्काल आवश्यकता को देखते हुए अस्पताल तक परिवहन की सुविधा को इससे बाहर रखा जाएगा।कर्फ्यू के दौरान सभी दुकानें, व्यवसायिक प्रतिष्ठान, कार्यालय, फैक्ट्री, गोदाम, साप्ताहिक हाट बाजार आदि की संपूर्ण गतिविधियां तत्काल प्रभाव से बंद रहेगी।सभी तरह के निर्माण कार्य तत्काल प्रभाव से स्थगित रहेंगे तथा सभी धार्मिक स्थल दर्शनार्थियों के लिए पूर्णतः बंद रहेंगे।
एसडीएम ने कहा कि उपरोक्त कंटेनमेंट जोन में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर जाकर पॉजिटिव केस के संपर्क में आने वाले व्यक्तियों को चिह्नित करते हुए उनकी जांच की जायेगी। उन्हें जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड अथवा फेसेलिटी कोरेंटिन में भेजा जाएगा। वैसे व्यक्तियों की ट्रैवल हिस्ट्री भी तैयार की जाएगी।कोई कोरोनावायरस से पीड़ित हो या कोरोनावायरस से पीड़ित के संपर्क में आया हो या वैसे व्यक्ति जो कोरोनोवायरस से प्रभावित देशों के प्रवास से जिले के क्षेत्र में प्रवेश किया हो, वे व्यक्ति इसकी शीघ्र सूचना या विस्तृत आवश्यक जानकारी प्रदान करने हेतु बाध्य होंगे।संबंधित व्यक्ति या उनके परिवार के सदस्यों के द्वारा यथाशीघ्र जिला स्तरीय, प्रखंड स्तरीय, पंचायत स्तरीय चिकित्सालय को सूचित करना होगा। प्रभावित स्थल, वार्ड या ग्राम के लोग भौतिक परीक्षण, क्वॉरेंटाइन और इनकी आइसोलेशन एवं चिकित्सा हेतु अपेक्षित सहयोग करेंगे।
विदेश से आने वाले सभी नागरिक / अन्य राज्यों से आए हुए नागरिक स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा निर्धारित क्वॉरेंटाइन की कड़ाई से अनुपालन करेंगे तथा कम से कम 14 दिन अपने घर में एकांतवास में रहेंगे और घर से बाहर नहीं निकलेंगे।एसडीएम ने कहा कि उपरोक्त आदेश के उल्लंघन करने वाले व्यक्ति पर भारतीय दंड संहिता 1860 की धारा 188 / 269 / 270 / 271 तथा अन्य सुसंगत धाराओं में कार्रवाई सुनिश्चित की जायेगी।
धनबाद में कब-कब मिले कोरोना पेसेंट
16 अप्रैल :कुमारधुबी के बाघाकुड़ी में बंगाल से पहुंचे युवक पॉजिटिव मिला।
18 अप्रैल : हीरापुर डीएस कॉलोनी में रहने वाले रेलकर्मी में कोरोना पॉजिटिव पाये गये। वह, बोकारो से पहुंचा था। (ये दोनों संक्रमित मरीज स्वस्थ होकर पिछले माह ही घर लौट चुके हैं।)
नौ मई : मुंबई से लौटे जामाडोबा निवासी मां और बेटे कोरोना संक्रमित पाये गये
15 मई : मुंबई से लौटा कपुरिया निवासी युवक कोरोना संक्रमित पाया गया।
18 मई : मुंबई से लौटा युवक कोरोना पाजिटिव पाया गया।
21 मई : सूरत से लौटा दुमदुमी का युवक कोरोना संक्रमित पाया गया।
समाहरणालय के आसपास 1,23,696 लोगों ने किया आरोग्य सेतु एप डाउनलोड
वैश्विक महामारी कोविड-19 के फैलाव के रोकथाम तथा लोगों की सुरक्षा के लिए भारत सरकार द्वारा विकसित आरोग्य सेतु एप को समाहरणालय के 10 किलोमीटर की परिधि में एक लाख 23 हजार 696 लोगों ने अपने एंड्राइड मोबाइल पर डाउनलोड किया है। डीसी अमित कुमार ने भी जिले के लोगों से अपील की थी कि वे अपने एंड्राइड मोबाइल पर आरोग्य सेतु एप को डाउनलोड करें। उसपर हमेशा निगरानी रखें। एप को डाउनलोड करने के बाद सेल्फ एससमेंट द्वारा सही जानकारी उपलब्ध कराए। हमेशा मोबाइल के ब्लूटूथ, जीपीएस तथा डाटा को ऑन रखें। उपायुक्त की अपील पर समाहरणालय के 500 मीटर की परिधि में 4116, एक किलोमीटर की परिधि में 9061, दो किलोमीटर की परिधि में 21999, पांच किलोमीटर की परिधि में 75887 तथा 10 किलोमीटर की परिधि में अबतक 123696 लोगों ने आरोग्य सेतु एप को डाउनलोड किया है। देश में अब तक 10 करोड़ 95 लाख लोगों ने इस एप को डाउनलोड किया है।

धनबाद में अब प्राइवेट सेंटर में भी कोरोना टेस्ट शुरू,आठ की रिपोर्ट निगेटिव
धनबाद में कोरोना वायरस की टेस्ट अब प्राइवेट सेंटर में भी होने लगा है। स्टेट गवर्नमेंट से एग्रीमेंट के बाद पैथ काइंड जांच केंद्र पुराना बाजार ने सेवा शुरू कर दी है। एक फोन पर संदिग्ध पेसेंट अपने घर पर सैंपल दे सकते हैं। दो दिनों में इसकी रिपोर्ट भी मिल जायेगी। हालांकि, इसके लिए संबंधित व्यक्ति को 4500 देने होंगे। टेस्ट सेंटर यह रिपोर्ट गुडग़ांव भेज रही है। जहां दो से तीन दिन में रिपोर्ट संबंधित पेसेंटको दी जा रही हैं।
धनबाद के आठ लोगों की रिपोर्ट निगेटिव
पैथ काइंड ने शहर के 8 लोगों की रिपोर्ट दी है। सभी रिपोर्ट निगेटिव है। स्वाब संग्रह करने के बाद इसे गुडग़ांव भेजा जा रहा। वहां जांच के बाद ईमेल से रिपोर्ट जारी कर सूचना दी जा रही है। इसकी सूचनाएं आईसीएमआर सेंट्रल गवर्नमेंट को दी जाती है। इसके बाद सूचना संदिग्ध पेसेंट को दी जाती है। पॉजिटिव रिपोर्ट मिलने पर पेसेंट को हेल्थ डिपार्टमेंट को सौंप दिया जायेगा।
तीन टेस्ट सेंटर भी जांच जल्द शुरू होगी
झारखंड गवर्नमेंट ने एसआरएल, डॉ. लाल पैथो लैब और पैथकाइंड से एग्रीमेंट किया है। एग्रीमेंट के अनुसार यह सेंटर पेसेंट से अधिक से अधिक 4500 रुपये ही ले सकती है। इसमें पीपीई किट, वीटीएम किट सहित जांच के चार्ज सभी शामिल हैं। एसआरएल सेंट्र सदर अस्पताल में पीपीपी मोड पर चल रहा है।
205 बेड के क्वॉरेंटाइन सेंटर के रूप में विकसित किये जायेंगे चार हॉस्टल
डीसी अमित कुमार ने गोविंदपुर, टुंडी, धनबाद तथा बलियापुर में चार हॉस्टल को 205 बेड के क्वॉरेंटाइन सेंटर के रूप में विकसित करने का निर्देश दिया है।डीसी ने गोविंदपुर के अल इकरा टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज के अल्पसंख्यक बालिका छात्रावास में 30 बेड, टुंडी के हाइ स्कूल कैंपस में स्थित अनुसूचित जाति छात्रावास में 100 बेड, एसएसएलएनटी बालिका उच्च विद्यालय बैंक मोड़ के पिछड़ी जाति बालिका छात्रावास में 25 बेड तथा बीबीएम कॉलेज बलियापुर के पिछड़ी जाति बालिका छात्रावास को 50 बेड के क्वॉरेंटाइन सेंटर के रूप में विकसित करने का निर्देश दिया है।
अन्नपूर्णा लाभुकों के बीच 2 दिन में खाद्यान्न वितरण करने का निर्देश
खाद्यान्न वितरण नहीं करने पर तीन दिनों में सीओ को देना होगा शो कॉज
डीसी अमित कुमार ने अन्नपूर्णा योजना के लाभुकों के बीच दो दिनों के अंदर मई 2020 का खाद्यान्न वितरण करने का निर्देश सभी सीओ को दिया है।डीसी ने कहा कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण घोषित लोकडाउन की स्थिति में जरूरतमंद लोगों को राहत पहुंचाने के लिए राज्य सरकार तथा जिला प्रशासन प्रयासरत है। फिर भी केवल 97 अन्नपूर्णा लाभुकों के बीच मात्र 58.20 क्विंटल खाद्यान्न का वितरण किया गया है। अन्नपूर्णा योजना के लाभुकों के बीच वितरण करने के लिए अभी भी 2128.80 क्विंटल चावल गोदामों एवं जन वितरण प्रणाली की दुकानों में रखा हुआ है।
उन्होंने सभी सीओ को निर्देश दिया है कि अन्नपूर्णा लाभुकों को मई 2020 तक का खाद्यान्न वितरण कर उस संबंध में अपना प्रतिवेदन जिला आपूर्ति कार्यालय में दो दिनों के अंदर समर्पित करना सुनिश्चित करेंगे। साथ ही अन्नपूर्णा योजना के लाभुकों को खाद्यान्न वितरण नहीं करने के लिए सीओ अपना शो कॉज तीन दिनों के अंदर उपलब्ध करायेंगे कि क्यों नहीं उनके विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई प्रारंभ कर दी जाए। उन्होंने यह भी उल्लेख करने का निर्देश दिया है कि यदि संबंधित अंचल में अन्नपूर्णा योजना के लाभुक नहीं है तो इस संबंध में एक प्रमाण पत्र कि संबंधित अंचल में इसके अतिरिक्त अन्नपूर्णा योजना के पात्रता रखने वाले कोई लाभुक नहीं है, का प्रमाण पत्र जिला आपूर्ति कार्यालय को समर्पित करेंगे।
कोविड-19 मेडिकल बुलेटिन
स्क्रीनिंग किए गए लोगों की संख्या : 3271
होम क्वारंटाइन में रखे लोगों की संख्या : 327
स्टैंपिंग किए गए लोगों की संख्या : 756
क्वारंटाइन
सदर अस्पताल :120
पीएमसीएच : 934
एसएसएलएनटी :18
रेलवे अस्पताल :03
निरसा पॉलिटेक्निक : 110
तोपचांची :78
बाघमारा :100
पीएमसीएच में लिए गए सैंपल:43
सदर अस्पताल में लिए गए सैंपल :180
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र,बाघमारा :88
लिए गए कुल सैंपल की संख्या : 5674
सैंपल का परिणाम प्राप्त:3345
सैंपल का परिणाम प्रतिक्षारत : 2329
कुल पोजिटिव केस :सात
एक्टिव केस :पांच
संक्रमण से ठिक हुए: दो
निधन:0

Comment here

8 + 1 =

WordPress Anti-Spam by WP-SpamShield

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com