Breaking Newsदिल्लीदेशविदेशस्वास्थ्य

सेंट्रल हेल्थ मिनिस्टर डॉ हर्षवर्धन WHO बोर्ड के कार्यकारी अध्यक्ष बने,22 मई को संभालेंगे कार्यभार

  • जापान के डॉ. हिरोकी नकतानी की जगह लेंगे

नई दिल्ली। सेंट्रल हेल्थ मिनिस्टर डॉ. हर्षवर्धन विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) के 34 सदस्यीय एग्जीक्यूटिव बोर्ड के चेयरमैन होंगे। डा. हर्षवर्धन 22 मई को पदभार संभाल सकते हैं। वह जापान के डॉ. हिरोकी नकतानी की जगह लेंगे।जापान के डॉ हिरोकी नकाटानी की जगह लेंगे जो वर्तमान में 34-सदस्यीय डब्ल्यूएचओ कार्यकारी बोर्ड के अध्यक्ष हैं।
यह भी पढ़ें:नई दिल्ली:एक जून से प्रतिदिन चलेगी 200 नॉन एसी ट्रेनें चलेंगी, जल्द शुरु होगी ऑनलाइन बुकिंग
एक साल होगा कार्यकाल
194 देशों की विश्व स्वास्थ्य सभा द्वारा मंगलवार को इंडिया को कार्यकारी बोर्ड में नियुक्त करने के प्रस्ताव पर हस्ताक्षर किये। डब्ल्यूएचओ के दक्षिण-पूर्व एशिया समूह ने पिछले साल सर्वसम्मति से निर्णय लिया था कि इंडिया को तीन साल के कार्यकाल के लिए कार्यकारी बोर्ड के लिए चुना जायेगा।हर्षवर्धन का चयन 22 मई को विश्व स्वास्थ्य संगठन की कार्यकारी बोर्ड की बैठक में किया जायेगा। क्षेत्रीय समूहों के बीच अध्यक्ष का पद एक वर्ष के लिए रोटेशन द्वारा आयोजित किया जाता है। यह पिछले साल तय किया गया था कि शुक्रवार से शुरू होने वाले पहले वर्ष के लिए भारत का उम्मीदवार कार्यकारी बोर्ड का अध्यक्ष होगा।
यह भी पढ़ें:नई दिल्ली:एक जुलाई से सीबीएसई की 10वीं व 12वीं एग्जाम, डेटशीट जारी
साल में दो बार होती है WHO की बैठक
यह पूर्णकालिक कार्य नहीं है और मंत्री को कार्यकारी बोर्ड की बैठकों की अध्यक्षता करने की आवश्यकता होगी। कार्यकारी बोर्ड 34 व्यक्तियों से बना है जो तकनीकी रूप से स्वास्थ्य के क्षेत्र में योग्य हैं। बोर्ड साल में कम से कम दो बार बैठक करता है। मुख्य बैठक आमतौर पर जनवरी में होती है। स्वास्थ्य सभा के तुरंत बाद मई में दूसरी छोटी बैठक होती है। कार्यकारी बोर्ड के अध्यक्ष का मुख्य कार्य स्वास्थ्य सभा के निर्णयों और नीतियों को प्रभावी बनाने के लिए सलाह देना है। डा हर्षवर्धन ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 73 वीं विश्व स्वास्थ्य सभा को संबोधित करते हुए कहा कि इंडिया ने कोरोना महामारी का मुकाबला करने के लिए समय पर सभी आवश्यक कदम उठाए। उन्होंने दावा किया था कि देश ने बीमारी से निपटने में अच्छा किया है और आने वाले महीनों में बेहतर करने का भरोसा है।
धनबाद: निरसा पुलिस स्टेशन ऑफिसर इंचार्ज सस्पेंड, गांजा तस्करी के झूठे केस में ECL स्टाफ चिरंजीत को भेजा था जेल
वर्ल्ड हेल्थ असेंबली से चुने जाते हैं बोर्ड के मेंबर
डब्ल्यूएचओ के एग्जीक्यूटिव बोर्ड में शामिल 34 सदस्य स्वास्थ्य के क्षेत्र में कुशल जानकार होते हैं।जिन्हें 194 देशों की वर्ल्ड हेल्थ असेंबली से 3 साल के लिए बोर्ड में चुना जाता है। फिर इन्हीं सदस्यों में से एक-एक साल के लिए चेयरमैन बनता है। इस बोर्ड का काम हेल्थ असेंबली में तय होने वाले फैसले और नीतियों को सभी देशों में ठीक तरह से लागू करना होता है।

Comment here

− 7 = 2

WordPress Anti-Spam by WP-SpamShield

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com