Breaking Newsअन्यअपराधझारखण्डधनबादराजनीतिराज्य

धनबाद:जेल में बंद बीजेपी एमएलए संजीव सिंह फिर हुए बीमार, बीपी हुआ लो,पेट दर्द,डॉक्टरों की टीम ने की जांच

धनबाद: धनबाद जेल में बंद बीजेपी एमएलए संजीव सिंह की तबीयत मंगलवार को अचानक बिगड़ गई। जेल की सूचना पर सिविल सर्जन के साथ डॉक्टरों की टीम जेल जाकर संजीव की घंटो जांच की। संजीव का बीपी लो मिला,पेट में दर्द,बेचैनी,अनिंद्रा व चक्कर आने की समस्या से एमएलए परेशान हैं। उन्हें कई तरह की बीमारी है। नींद ने आने के साथ-साथ भूलने की भी बीमारी है। इससे वें हमेशा टेंशन में रहते हैं। सीने और पेट में भी दर्द उठता रहता है। रात के समय जब पेट या सीने का दर्द उठता है तो वह सो नहीं पाते हैं।
विटामिन डी की कमी
डॉक्टरों की जांच में संजीव की बॉडी में विटामिन डी की कमी मिली है। उन्हें नींद नहीं आने की प्रोबलम बढ़ गयी है।पेट में दर्द है. सिविल सर्जन डॉ गोपाल दास की देखरेख में डॉक्टरों की टीम ने जेल में जाकर विधायक संजीव सिंह की जांच की. डॉक्टरों ने नींद आने की दवा देते हुए एमए लए को पर्याप्त नींद लेने की सलाह दी है. संजीव सिंह को पहले से ही चेस्ट पेन आदि की प्रोबलम है।
जेल में बंद संजीव की तबीयत 16 नवंबर को भी खराब हो गयी थी। सिविल सर्जन के निर्देश पर चार मेंबर की टीम जेल जाकर संजीव की जांच की थी। मेडिकल बोर्ड सीएस डॉ गोपाल दास, सर्जन डॉ दीपक कुमार और मेडिसीन के डॉ एके वर्मा ने 21 अगस्त को संजीव सिंह की जांच की थी. संजीव सिंह 24 अगस्त को इलाज के लिए जेल से पीएमसीएच भेजे गये थे। जांच रिपोर्ट नॉर्मल मिलने के बाद डॉक्टरों ने 26 अगस्त को संजीव सिंह को अस्पताल से छुट्टी दे दी। जेल से फिर संजीव 13 सितंबर को पीएमसीएच में भर्ती हुए थे। छह दिनों के बाद 17 सितंबर को उन्हें फिर से जेल भेज दिया गया था.
उल्लेखनीय है कि नौ अगस्त को धनबाद कोर्ट में पेशी के दौरान ही संजीव सिंह दर्द से कराह रहे थे। जिला एवं सत्र न्यायाधीश आलोक कुमार दुबे ने नोटिस कर लिया था। कोर्ट ने जेल प्रबंधन से विधायक की स्वास्थ्य रिपोर्ट तलब किया थी। उनके स्वास्थ्य जांच के लिए मेडिकल बोर्ड भी गठित की गई। जेल सुपरिटेंडेट ने हाल ही में जिला प्रशासन को लेटर लिखा था कि एमएलए संजीव सिंह की तबीयत में सुधार नहीं हो रहा है। उन्हें तत्काल बेहतर इलाज की जरूरत है।

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com